SDM jyoti Maurya: एसडीएम ज्योति मौर्य मामले में नया मोड़, कमांडेंट मनीष दुबे की जा सकती है नौकरी

 SDM jyoti Maurya: एसडीएम ज्योति मौर्य मामले में नया मोड़, कमांडेंट मनीष दुबे की जा सकती है नौकरी।

संवाददाता सुनील कुमार की रिपोर्ट।

एसडीएम ज्योति मौर्य के साथ-साथ अब उनके तथाकथित प्रेमी कमांडेंट मनीष दुबे (Commandent Manish Dubey) की नौकरी खतरे में पड़ती दिखाई दे रही है। दरअसल, एसडीएम ज्योति मौर्या (SDM Jyoti Maurya) के पति आलोक मौर्या (Alok Maurya) के आरोप लगाने के बाद जब मामला मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दरबार में पहुंचा तो होमगार्ड मुख्यालय ने प्रयागराज में तैनात डीआईजी को मामले की जांच के आदेश दिए थे। जांच रिपोर्ट इसी सप्ताह आनी थी लेकिन मनीष दुबे सहित कई जिला कमांडेंट के ट्रांसफर के चलते अब इसकी रिपोर्ट अगले सप्ताह आएगी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक डीजीपी ने कहा है कि पूरी तरह से जांच के बाद ही कार्रवाई की जाएगी।

कौन है कमांडेंट मनीष दुबे (Who is Commandent Manish Dubey)

होमगार्ड के कमांडेंट मनीष दुबे गाजियाबाद में पोस्टेड हैं। एसडीएम ज्योति मौर्या के पति आलोक मौर्या के मुताबिक कमांडेट मनीष दुबे की पत्नी भी परिवार के उजाड़ने का आरोप लगा रही हैं। ऐसे में कमांडेंट मनीष दुबे घिरते नजर आ रहे हैं। अब देखने वाली बात होगी कि मनीष दुबे के ऊपर किस कानून के तहत कार्रवाई होती है। मनीष दुबे के तथाकथित चैट भी वायरल हुए हैं।

क्या है ज्योति मौर्य एसडीएम का मामला (SDM Jyoti Maurya)

jyoti maurya sdm: बता दें कि ज्योति मौर्य फिलहाल बरेली के सेमेखेड़ा स्थित शुगर मिल में महाप्रबंधक( GM) के पद पर तैनात हैं. । जबकि आलोक मौर्या प्रतापगढ़ में पंचायती राज विभाग में फोर्थ ग्रेड के कर्मचारी हैं। एसडीएम ज्योति मौर्य (Sdm Jyoti Maurya) उस वक्त चर्चा में आईं, जब उनके पति आलोक मौर्य ने धूमनगंज थाने के अलावा होमगार्ड मुख्यालय में शिकायत दर्ज कराई कि उनका गाजियाबाद में होमगार्ड कमांडेंट के पद पर तैनात अधिकारी कमांडेंट मनीष दुबे के साथ अवैध संबंध है। आलोक मौर्य ने ज्योति मौर्य और मनीष दुबे के कुछ विवादित व्हाट्सएप चैट भी शेयर किए थे।

2010 में ज्योति मौर्या और आलोक मौर्या की हुई थी शादी

बता दें कि प्रयागराज के धूमनगंज थाना क्षेत्र के रहने वाले आलोक मौर्य की नौकरी साल 2009 में लगी थी। फिर साल 2010 में उसने वाराणसी की रहने वाली ज्योति मौर्य से शादी रचाई। ज्योति मौर्य पढ़ने में बचपन से ही होशियार थीं। इसलिए शादी के बाद उसने पति के सामने आगे पढ़ाई की मांग रखी। फिर पति ने भी प्रयागराज भेजकर सिविल सेवा की तैयार करवाई। जिसके बाद साल 2016 में वो यूपी लोक सेवा आयोग की PCS की परीक्षा में पास हो गईं। बल्कि उनकी रैंक भी 16वीं रही। इसके बाद ज्योति का चयन एसडीएम के पद पर हुआ।

2020 के बाद स्थिति बिगड़ने लगी (Jyoti Maurya Affair)

साल 2020 के बाद से ही पति आलोग मौर्या को पत्नी ज्योति मौर्या पर शक होने लगा और 2022 में शक यकीन में बदल गया। फिर क्या था आलोक मौर्या ने पत्नी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। .अब अपने दर्द को बयां करते हुए पति आलोक मौर्य ने आरोप लगाते हुए कहा कि उसने पत्नी को रोकने का प्रयास किया तो अब ज्योति अपने प्रेमी के साथ मिलकर उसकी हत्या करना चाहती है। आलोक मौर्या ने रोते हुए कहा कि उन्हें बच्चियों की याद आ रही है।


INDIA STRONG NEWS

News portal

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने