मुख्यमंत्री जी द्वारा इस संबंध में स्पष्ट रूप से निर्देश दिए गए हैं कि मार्गों के निर्माण में गुणवत्ता के साथ समझौता करने वालों के विरूद्ध जीरो टॉलरेंस के साथ कार्रवाई हो।

 मुख्यमंत्री जी द्वारा इस संबंध में स्पष्ट रूप से निर्देश दिए गए हैं कि मार्गों के निर्माण में गुणवत्ता के साथ समझौता करने वालों के विरूद्ध जीरो टॉलरेंस के साथ कार्रवाई हो।


संवाददाता अमन जोशी की रिपोर्ट।

जिलाधिकारी श्री रविन्द्र कुमार माँदड़ की अध्यक्षता में कलेक्टर सभागार में जनपद में चल रहे विभिन्न प्रकार के निर्माण कार्यों की प्रगति को लेकर विस्तृत समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया।https://www.indiastrongnews.in/2023/09/blog-post_12.html
        बैठक में जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी और अधिशासी अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण को निर्देशित करते हुए कहा कि पिछले 02 साल में बने विभिन्न मार्गाे की भौतिक स्थिति का सत्यापन होगा, इसके लिए संबंधित एसडीएम की अध्यक्षता में टीम गठित होगी।
         उन्होंने कहा कि यदि मेंटेनेंस अवधि के दौरान कोई मार्ग क्षतिग्रस्त होता है तो यह माना जाएगा की मार्ग के निर्माण में गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखा गया है और इसके लिए संबंधित अभियंता और कॉन्ट्रेक्टर के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।
          मुख्यमंत्री जी द्वारा इस संबंध में स्पष्ट रूप से निर्देश दिए गए हैं कि मार्गों के निर्माण में गुणवत्ता के साथ समझौता करने वालों के विरूद्ध जीरो टॉलरेंस के साथ कार्रवाई हो।
         उन्होंने कहा कि पीडब्ल्यूडी और ग्रामीण अभियंत्रण के अधिशासी अभियंता यह सुनिश्चित करें कि 25 सितंबर 2023 तक जनपद के क्षतिग्रस्त मार्ग दुरुस्त हो जाने चाहिए और इस संबंध में 25 सितंबर को अधिकारी प्रमाण पत्र भी देंगे।
        उन्होंने लालपुर पुल से लालपुर की तरफ जाने वाले मार्ग के दोनों किनारो पर सुरक्षात्मक कार्य करने के लिए भी निर्देश दिए तथा कहा कि पुल पार करते ही दोनों तरफ गहरी खाईं है जिसके कारण वहां सुरक्षात्मक कार्य अत्यंत आवश्यक है ताकि किसी भी प्रकार की दुर्घटना न होने पाए।
        जिले के विभिन्न मार्गों पर बनाए गए स्पीड ब्रेकर क्षतिग्रस्त हो गए हैं जिसकी वजह से आमजन को काफी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है इसलिए अधिशासी अभियंता तत्काल प्रभाव से स्पीड ब्रेकरों को दुरुस्त कराएं और डिवाइडरों को पेंट करने की कार्रवाई भी प्रारंभ करें।
        बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री नंदकिशोर कलाल, जॉइंट मजिस्ट्रेट श्री अभिनव जैन, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एसपी सिंह सहित अन्य अधिकारी गण मौजूद रहे।

INDIA STRONG NEWS

News portal

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने